प्रशासन व पालिका की टीम ने सडकों के मरम्मत कार्य की गुणवत्ता परखी, नाला दबाने पर होटल को दिया नोटिस

Mussoorie: नगर प्रशासन एवं नगर पालिका ने शहर की क्षतिग्रस्त सडकों के मरम्मत कार्य व जगह जगह होटलों के बहते सीवर का संयुक्त निरीक्षण किया। इस दौरान टीम ने लोक निर्माण विभाग के द्वारा किये जा रहे सड़कों के मरम्मत कार्य की गुणवत्ता को परखा।

मंगलवार को नगर प्रशासन व पालिका प्रशासन की टीम ने मोतीलाल नेहरू मार्ग, मालरोड, पिक्चर पैलेस, किंक्रेग मार्ग सहित अन्य स्थानों का संयुक्त निरीक्षण कर क्षतिग्रस्त सड़कों की स्थिति का जायजा लिया। इस दौरान लोक निर्माण विभाग के माध्यम से किए जा रहे मरम्मत कार्य की गुणवत्ता को भी परखा।

नायब तहसीलदार भौपांल सिंह चौहान ने बताया कि प्रशासन व नगर पालिका की टीम संयुक्त रूप से सड़कों की मरम्मत व सीवर की समस्या का निरीक्षण कर रही है जिसके तहत मोती लाल नेहरू मार्ग, मालरोड,पिक्चर पैलेस व किंक्रेग आदि स्थानों पर सड़कों का निरीक्षण किया गया। उन्होंने बताया कि पेयजल निगम द्वारा पूर्व में पेयजल लाइन बिछाने के बाद गुणवत्ताविहीन कार्य किया गया, जिसके कारण सड़के क्षतिग्रस्त हो गई। स्वयं जिलाधिकारी सोनिका सिंह ने भी सड़कों का निरीक्षण किया था। जिसके बाद उन्होंने प्रशासनिक अधिकारीयों को निर्देशित किया था कि प्रशासन व पालिका की संयुक्त टीम लोक निर्माण विभाग द्वारा कराये जा रहे मरम्मत कार्य का निरीक्षण करें। जिलाधिकारी के निर्देशों के क्रम में संयुक्त टीम सडकों का निरीक्षण कर गुणवत्ता को परख रही है। इसके साथ ही उन्होंने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर पेेयजल निगम व ठेकेदार के खिलाफ कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज की जा चुकी है और अब लोक निर्माण विभाग व एनएच अगर मरम्मत कार्य गुणवत्ता से नहीं करता, तो उनके खिलाफ भी कड़ी कार्रवाई की जायेगी।

वहीं नगर पालिका के स्वास्थ्य अधिकारी डा. आभाष सिंह ने बताया कि जिलाधिकारी के निर्देश पर सीवर लाइन का निरीक्षण किया जा रहा है जिसमें प्रमुख रूप से होटलो की सीवर लाइनें है। जहां भी सीवर बहता पाया गया, उनके खिलाफ नियमानुसार दण्डात्मक कार्रवाई की जायेगी। जिन होटलों की सीवर लाइन खुली हैं या बह रही हैं, वह 48 घंटे के भीतर सीवर लाइन को ठीक करें या जल संस्थान से कनेक्शन लेकर सीवर लाइन जोड़े, अन्यथा कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि औचक निरीक्षण आगे भी जारी रहेगा। वहीं कहा कि सोलेटियर प्लाजा के समीप जहां नाला दबा दिया गया है, होटल वाले को नोटिस दिया गया है। इस मौके पर नगर पालिका स्वास्थ्य निरीक्षक विरेंद्र बिष्ट, व किरन राणा, गोविन्द नेगी आदि भी मौजूद रहे।

इस सम्बन्ध में पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता ने बताया कि पेयजल निगम द्वारा पेयजल लाइन बिछाने के बाद गुणवत्ताविहीन कार्य किया गया था, जिस कारण शहर की सड़के पूरी तरह से गड्डों में तब्दील हो गयी थी। इसको लेकर पालिका द्वारा पेयजल निगम को कई बार हिदायत दी गयी थी, लेकिन स्थिति जस की तस बनी रही। इसके बाद जिलाधिकारी की बैठक में भी पेयजल निगम के खिलाफ नाराजगी जताई गयी। इसको लेकर पालिका द्वारा पेयजल निगम के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवा दी गयी है।