उत्तराखंडधार्मिकमसूरीराज्य

मसूरी: कोरोना महामारी के चलते इस बार भी सांकेतिक रूप से निकाली गई कन्हैया की डोली

Mussoorie: कोरोना संक्रमण से बचाव व जारी गाइडलाइन के तहत इस साल भी भगवान श्री कृष्ण जन्माष्ठमी में बाद निकलने वाली कन्हैया की डोली सांकेतिक रूप से निकाली गई। जो श्री सनातन धर्म मंदिर लंढौर से मलिंगार, गुरूद्वारा चौक, लंढौर चौक व लंढौर बाजार होते हुए घंटाघर तक गई व वहां से वापस मंदिर लौट गई।

हर वर्ष कृष्ण जन्माष्ठमी पर भगवान कृष्ण नगर भ्रमण पर निकलते हैं,लेकिन गत दो वर्षों से कोरोना महामारी के चलते नगर कीर्तन व मेला नहीं लगाया जा रहा है। केवल सांकेतिक रूप से  कान्हा की डोली निकाली जा रही है। इस संबंध में श्री सनातन धर्म मंदिर सभा के महामंत्री नीरज अग्रवाल ने बताया कि 142 सालों से लगातार भगवान कृष्ण की जन्माष्ठी में बाद पड़ने वाले रविवार को भगवान कृष्ण नगर भ्रमण पर निकलते हैं, जिसके तहत उनकी डोली निकाली जाती है और मेला आयोजित किया जाता है। जिसमें मसूरी सहित आसपास के हजारों लोग इसमें शामिल होकर भगवान कृष्ण के दर्शन कर उनका आशीर्वाद लेते हैं। लेकिन कोरोना महामारी के तहत इस बार भी सादगी से डोली नगर भ्रमण पर निकाली जा रही है जो केवल घंटाघर तक जायेगी। जबकि अन्य वर्षों में डोली मालरोड होते हुए गांधी चौक तक जाती थी।

सनातन धर्म मंदिर सभा के अध्यक्ष दीपक गुप्ता ने बताया कि डोली के नगर भ्रमण पर निकलने से पूर्व मंदिर में भगवान श्रीकृष्ण की प्रतिमा की पूजा अर्चना व स्थान के साथ भोग लगाया गया व हवन आरती के बाद डोली भ्रमण को निकाली गई। उन्होंने कहा कि कोरोना गाइड लाइन का पूरा पालन करने के साथ ही डोली निकाली गई।

इस मौके पर नगर पालिकाध्यक्ष अनुज गुप्ता, भाजपा मसूरी मंडल अध्यक्ष मोहन पेटवाल, शरद गुप्ता, अनुज तायल, मनोज रयाल, राजेश सक्सेना, वैभव तायल, डा. मुकुल बहुगुणा, महेंद्र कुमार, अनिल गोयल, पालिका सभासद जसोदा शर्मा, आरती अग्रवाल, संदीप अग्रवाल, प्रमोद ठाकुर, राहुल मित्तल सहित बड़ी संख्या में श्रद्धालु डोली के साथ भजन कीर्तन करते चलते रहे।

Tags
Close