उत्तराखंडरुद्रप्रयाग

देवस्थानम बोर्ड को लेकर तीर्थ-पुरोहित आंदोलन करे समाप्त, सीएम ने खोले हैं वार्ता के द्वार – भाजपा नेता अजेंद्र

रुद्रप्रयाग : पूर्व दर्जाधारी व भाजपा नेता अजेंद्र अजय ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी द्वारा चारधाम देवस्थानम बोर्ड को लेकर उच्च स्तरीय समिति गठित किए जाने के बाद अब तीर्थ- पुरोहितों व हक – हकूकधारियों से अपना आंदोलन समाप्त करने का अनुरोध किया है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने वार्ता के द्वार खोले हैं।

केदारघाटी के भ्रमण के दौरान अजेंद्र ने कहा कि मुख्यमंत्री धामी उत्तराखंड चारधाम देवस्थानम प्रबन्धन बोर्ड के मसले पर गंभीर हैं। देवस्थानम बोर्ड को लेकर किसी भी पक्ष की शंकाओं को दूर करने और सकारात्मक सुझावों के लिए मुख्यमंत्री ने उच्च स्तरीय समिति गठित करने की घोषणा की है। उन्होंने बताया कि विगत दिवस मुख्यमंत्री के केदार घाटी के प्रस्तावित दौरे के दौरान तीर्थ – पुरोहितों के संगठनों मुलाकात भी प्रस्तावित थी। मगर प्रदेश के कुछ स्थानों में आयी आपदा के कारण मुख्यमंत्री का भ्रमण रद्द हो गया था।

भाजपा के पूर्व प्रदेश मीडिया प्रभारी रहे अजेंद्र ने कहा कि उच्च स्तरीय समिति के गठन की घोषणा से यह भी स्पष्ट है कि मुख्यमंत्री धामी का इस विषय पर रुख पूरी तरह से सकारात्मक है। लिहाजा, तीर्थ- पुरोहितों को अपना आंदोलन समाप्त कर देना चाहिए।

उधर, भाजपा नेता अजेंद्र ने केदारघाटी के उखीमठ, गुप्तकाशी, फाटा, रामपुर, गौरीकुंड, त्रियुगीनारायण आदि स्थानों का भ्रमण किया और जन समस्याओं को सुना। उन्होंने मौके पर से ही अधिकारियों को फोन कर कई समस्याओं का निस्तारण भी किया। उन्होंने त्रियुगीनारायण में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने की मांग को लेकर धरना दे रहे ग्रामीणों से भी बातचीत की और उन्हें मामले का सकारात्मक हल निकालने का आश्वासन दिया।

भ्रमण के दौरान उनके साथ विभिन्न स्थानों पर उखीमठ नगर पंचायत के अध्यक्ष विजय राणा, भाजपा पूर्व प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य जयंती कुर्मांचली, महिला मोर्चा की जिला महामंत्री सुमन जमलोकी, विजय जमलोकी, पवन राणा आदि भी रहे।

Tags
Close